in ,

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की मिशन 5 करोड़ पौधारोपण लक्ष्य की शुरुआत, लगाया महोगनी का पौधा

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर मिशन 5 करोड़ पौधारोपण के लक्ष्य की शुरुआत की। इस मौके पर नीतीश ने मुख्यमंत्री आवास में महोगनी प्रजाति का पौधा लगाया। सरकार ने राज्य में एक साल के भीतर 5 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है।

जल जीवन हरियाली अभियान के तहत वित्तीय वर्ष 2021-22 में 5 करोड़ पौधों को लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर सभी वन प्रमंडलों में वृक्षारोपण की औपचारिक शुरुआत भी की गई। मिशन 5 करोड़ पौधारोपण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए वन विभाग की पौधशालाओं में साढ़े पांच करोड़ से अधिक पौधे तैयार कराए गए हैं।

अलग-अलग विभागों को पौधा लगाने का लक्ष्य भी दिया गया है। वन विभाग द्वारा 1़24 करोड़ पौधे विभिन्न विभागीय योजनाओं के तहत लगाए जाएंगे। ग्रामीण विकास विभाग के तहत मनरेगा द्वारा दो करोड़ एवं बिहार जीविकोपार्जन प्रोत्साहन समिति के तहत जीविका दीदियों के द्वारा 1.5 करोड़ पौधों का रोपण किया जाएगा।

वन विभाग द्वारा विभागीय वृक्षारोपण के अतिरिक्त विभिन्न माध्यमों से लोगों को विभागीय पौधशालाओं एवं मोबाइल वैन से प्रत्येक जिलों में 1.5 लाख पौधों का विक्रय किया जाएगा।

विभिन्न केंद्रीय पैरामिलीट्री बल, संस्थानों, गैर सरकारी संस्थानों सहित अन्य संगठनों के सहयोग से 20 लाख से अधिक पौधों का रोपण किया जाएगा।

किसानों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से कृषि वानिकी योजना के तहत विभागीय पौधशालाओं से किसानों को 50 लाख पौधे उपलब्ध कराए जाने का लक्ष्य रखा गया है। योजना के तहत किसानों को तीन साल के बाद 60 रुपये प्रति पौधे दिए जाएंगे। रोपित किए जाने वाले पौधों की सुरक्षा एवं देखरेख किसानों के द्वारा ही की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि राज्य में हरित आवरण बढ़ाने के लिए साल 2012 में हरियाली मिशन की स्थापना की गई थी। बिहार से झारखंड के अलग होने के बाद राज्य में हरित आवरण काफी कम हो गया था, जो अब बढ़कर करीब 15 प्रतिशत हो गया है।

वैश्विक खाद्य-वस्तु कीमतें 1 दशक में सबसे अधिक